• एमडीएल गान
Your Language:
  • English(English (United States))
  • Hindi (हिंदी (भारत))

रक्षा सार्वजनिक उपक्रम उद्यम

  • रक्षा मंत्रालय

    Ministry of Defence

    रक्षा मंत्रालय का मुख्य काम है सभी रक्षा एवं सुरक्षा संबंधित मामलों में सरकार के नीति निर्देशों को प्राप्त करना और उसे सेवा मुख्यालयों, आंतरिक सेवा संगठनों, उत्पादन प्रतिष्ठानों और शोध एवं विकास संगठनों को कार्यान्वित करने के लिए सूचित करना है । सरकारी नीति निर्देशों का प्रभावशाली कार्यान्वयन और निर्धारित संसाधनों के अन्तर्गत अनुमोदित कार्यक्रमों का निष्पादन सुनिश्चित करना भी आवश्यक है । रक्षा मंत्रालय में चार विभाग हैं यथा, रक्षा विभाग (डीओडी), रक्षा उत्पादन विभाग (डीडीपी), रक्षा शोध एवं विकास विभाग (डीडीआरडी) और वित्त प्रभाग ।

    अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.mod.nic.in क्लिक करें ।

  • तोपखाना फैक्टरी बोर्ड

    Ministry of Defence

    तोपखाना फैक्टरी बोर्ड के अंतर्गत भारतीय तोपखाना फैक्ट्रीज सेना की आवश्यकता की प्रत्येक वस्तु का निर्माण करती है जैसे तम्बू, स्लीपिंग बैग एवं कपड़े इसके पहली ईकाई १८०१ में सम्मिलित करके स्थापित की गई जो मुख्य रुप से देश की रक्षा को पूरा कर सके । तोपखाना फैक्टरी बोर्ड अब विविध रुपों में बनाई गई हैं जैसे : मेटालर्जीकल, अभियांत्रिकी, वाहन, ऑप्टीकल, कपड़ा एवं चमेड़े के कपड़े आदि । आज तोपखाना फैक्टरी बोर्ड (एफओबी) अपने ३९ फैक्ट्रीज सहित देश भर में फैली हुई हैं और निम्न सेवाएं प्रदान करती हैं :

    • बहु-प्रौद्योगिकी क्षमताओं सहित विस्तृत एवं बहुमखी उत्पादन आधार
    • स्टेट - आफ - आर्ट निर्माण सुविधाएं
    • गुणवत्ता मानकों का कठोरता से पालन करना (सभी ईकाईयां आईएसओ-९००० प्रमाणित हों)
    • मूल के साथ-साथ रुपांतर शोध एवं विकास आवश्यकता आधारित संशोधन और परिवर्तन
    • परियोजना अभियांत्रिकी क्षमता
    • शस्त्र तथा युद्ध उपकरणों के उत्पादन में नई परियोजनाएं स्थापित करने में सलाह देना, सालूसन मार्केटिंग और रक्षा उद्ेदश्य हेतु आवश्यक साफ्टवेयर का भी परमर्श देना
    • कुशल स्वयं व्यावसायिक योग्य श्रमशक्ति तथा प्रबंधकीय कार्मिकों का समूह बनाना
    • औद्योगिक प्रशिक्षण सुविधाओं के लिए मजबूत आधार प्रदान करना ।
    • सुविधाजनक स्थिति के कारण तैयार बाजार तक पहूँचना

    अधिक जानकारी के लिए, कृपया ofbindia.gov.in क्लिक करें ।

  • हिन् दूस्तान एअरोनॉटिक्स लिमिटेड

    Ministry of Defence

    हिन्दूस्तान एअरोनाटिक्स लिमिटेड की स्थापना ०१ अक्टूबर,१९६४ को हुई थी । कंपनी की रचना हिन्दूस्तान एअरक्राफ्ट लिमिटेड के साथ एअरोनाटिक्स इडिण्या लिमिटेड तथा एअरक्राफ्ट मैनूफैक्चरिंग डिपो कानपूर के विलय से हुआ था ।

    इस कंपनी के मूल की रुपरेखा का मुख्य प्रयास एक उद्योगपति सेठ वालचंद हीराचंद के विशेष दृष्टिकोण का परिणाम है जिन्होंने बंगलूरु में हिन्दूस्तान एअरक्राफ्ट लिमिटेड की स्थापना प्रिन्सली स्टेट ऑफ मैसूर के साथ दिसम्बर १९४० में किया । भारत सरकार मार्च १९४१ में इसकी अंशधारक बनी और १९४२ में इसके प्रबंधन का अधिग्रहण कर लिया ।

    आज, हिएलि के पास १६ उत्पादन ईकाई और ९ शोध एवं रुपांकन केन्द्र भारत के ७ स्थानों पर स्थित हैं । कंपनी का एक प्रभावशाली उत्पादन ट्रैक रेकार्ड है (१२ प्रकार के एअरक्राफ्ट इन-हाउस शोध एवं विकास से निर्मित किये गये और १४ प्रकार के लाइसेन्स के अंतर्गत उत्पादित किये गये । हिएलि ने ३५५० एअरक्राफ्ट का निर्माण किया (जिसमें ११ प्रकार के स्वदेशी रुपांकन से बने थे), ३,६०० इंजन और ८१५० से अधिक एअरक्राफ्ट की ओवरहालिंग और २७३०० इंजन की ओवरहालिंग किया है ।

    अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.hal-india.com क्लिक करें ।

  • मिश्र धातु निगम लिमिटेड़

    Ministry of Defence

    भारत का एक मात्र विशेष धातु एवं सलाय संयत्र है, मिश्र धातु निगम लिमिटेड (मिधानी), यह आंध्र प्रेदश के ऐतिहासिक शहर हैदराबाद में स्थित, भारत सरकार का एक उद्यम है ।

    यह एक अनुपम, आधुनिक संघटित मेट्रालर्जीकल संयत्र है जो सामरिक उद्योग की आवश्यक महत्वपूर्ण माँगों को पूरा करने के लिए विस्तृत आधार पर विशेष धातु एवं एलाय निर्माण करती है जैसे, अंतरिक्ष, रक्षा ऊर्जा, एअरोनाटिकल,ऑटोमोबाइल, विद्युतीय, दूरसंचार, पेट्रोकेमिकल्स, लैम्प एवं सामान्य अभियांत्रिकी उद्योग आदि ।

    अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.midhani.com क्लिक करें ।

  • भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड

    Ministry of Defence

    भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (बेल) स्टेट ऑफ आर्ट उत्पाद राडार, रक्षा संदेश दूरसंचार, ध्वनि एवं दृश्य प्रसारण आटो इलेक्ट्रॉनिक्स , सोलार सिस्टम, सूचना तकनीक उत्पाद और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के क्षेत्र में उत्पाद प्रस्तुत करता है ।

    अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.bel-india.com क्लिक करें|

  • माझगाव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड

    Ministry of Defence

    माझगाव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड भारत का अग्रणी पंक्ति का आईएसओ ९००१ प्रमाणित पोत निर्माता है । इस शिपयार्ड ने युद्धपोतों का निर्माण किया है जिसमें पनडुब्बी, मालवाहक, जलयान, टैंकर्स (२७,००० डीडब्ल्यूटी), टग्स एवं ड्रेजर सहित (६,७०० टन के विध्वंशक) शामिल है ।

    हम, रक्षा तथा वाणिज्य उदेश्यों हेतु पोतों के निर्माण में अतिआधुनिक तकनीक का उपयोग करते हैं और हम लोग पूर्णत: कैड/कैम/सिम सुविधाओं से सुसज्जित हैं। इस क्षेत्र में हमारी श्रेष्ठता अनुभव एवं कुशलता से उत्पन होती है जिसमें हमारे अच्छी तरह से प्रशिक्षित एवं कौशलपूर्ण कार्यबल के साथ-साथ अतिउत्तम मूलभूत सुविधाएं स्थापित की गई हैं ।

    अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.mazdock.com क्लिक करें ।

  • गोव शिपयार्ड लिमिटेड

    Ministry of Defence

    गोवा शिपयार्ड लिमिटेड (जीएसएल) की स्थापना १९५७ में हुई । आज यह भारत के पश्चिमी तट का अग्रणी यार्ड है जो रुपांकन विकास निर्माण मरम्मत आधुनिकीकरण परीक्षण तथा पोतों की सुपुर्दगी के क्षेत्र में विभिन्न ग्राहकों की कठोर शर्तो को पूरा करता है ।

    एक छोटे बार्ज निर्माण यार्ड से शुरुवात करते हुए जीएसएल ने एक अति परिष्कृत पोत निर्माता के रुप में देश में प्रसिद्धि प्राप्त किया है ।

    अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.goashipyard.co.in क्लिक करें ।

  • भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड:

    Ministry of Defence

    भारत अर्थ मूवर्स लिमिटेड भारत में एक मुख्य आईएसओ ९००० कंपनी है और एशिया में दूसरा सबसे बड़ा अर्थ मूविंग उपकरण निर्माता है । तीन दशक पुरानी बहु-स्थानीय तथा बहु उत्पाद कंपनी बीईएमएल आर्थीक क्षेत्र के विभिन्न जैसे कोयला, इस्पात, सिमेन्ट, सिचाई, निर्माण, सड़क निर्माण और रेल के उपयोग में अत्यावश्यक सहयोग प्रदान करता है । इसने अपने उत्पाद सीमा को विस्तारित किया है जिससे हाई क्वालिटी हाइड्रोलिक, हैवी ड्यूटी डीजल इंजन, वेल्डिंग रोबोट और हैवी फेब्रिकेशन जॉब्स की जिम्मेदारी भी लिया है ।

    बीईएमएल, एक सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम है जो घरेलू अर्थमूवर्स उद्योग में ७० बाजार हिस्से पर नियंत्रण रखती है । लगभग ४० इसकी अंश पूंजी वित्तीय स्ंास्थानों तथा सार्वजनिक क्षेत्र निवेशित है । बीईएमएल कार्पोरेट मुख्यालय तथा केन्द्रीय विपणन प्रभाग बँगलूरु में है ।

    अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.bemlindia.com क्लिक करें ।

  • भारत डायनामिक्स लिमिटेड :

    Ministry of Defence

    भारत डायनामिक्स लिमिटेड १९७० में स्थापित शांति की एक शक्ति है । यह रक्षा सेनाओं की आयुध प्रणाली से देश के हमारे दुश्मनों की किसी गलत मनसूबों के समक्ष प्र्रभावी रक्षा के लिए अग्रणी सहायकता देती है । थल सेनाओं के लिए निर्देशित मिसाइल प्रणाली के उत्पादन से शुरुवात करने वाली बीडीएल ने अपने रास्ते पर चल कर वायु एवं नौसेना बलों के लिए निदेशित आयुध एवं एलाएड सिस्टम की आपूर्ति भी करती है । कास्ट इफेक्टीव प्रॉडक्ट अपग्रेड्स और रिट्रोफिट्स के लिए सुविज्ञता उत्पन्न करने के साथ ही पुराने उपकरणों को नवजीवन प्रदान करते हुए उनकी मारक क्षमता को बढ़ाने के लिए बीडीएल ने मुख्य क्षमता विकसित किया है ।

    अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.bdl-india.com क्लिक करें ।

  • गार्डेन रीच शिपबिल्डर्स एण्ड इंजिनियर्स लिमिटेड

    Ministry of Defence

    यह कंपनी १८८४ में हुगली नदी के पूर्वी तट पर एक छोटी फैक्टरी के रुप में स्थापित की गई । इसका नाम वर्ष १९१६ में गार्डेन रीच वर्कशॉप (जीआरडब्ल्यू) रखा गया और ०१ अप्रैल,१९६० को भारत सरकार ने इसका अधिग्रहण कर लिया । कंपनी विकास के गतिशील पथ पर बढ़ते हुए और अपने मल्टी फेरियस एक्टीविटिज में विविधता लाने के कारण सही अर्थो में इसका नाम बदलकर ०१ जनवरी,१९७७ को गार्डेन रीच शिपबिल्डर्स एण्ड इंजिनियर्स (जीआरएसई) रख दिया गया । जीआरएसई ने धीरे-धीरे विस्तार एवं आधुनिकीकरण करके बढ़ती मेरीटाईम आवश्यकताओं को प्राप्त करने के लिए विशेषरुप से भारतीय नौसेना तथा तटरक्षक के लिए कार्य किया है । यह देश के अग्रणी शिपयार्डो में पूर्वी क्षेत्र का मूख्य यार्ड है । यह आधुनिक युद्धपोतों के साथ-साथ परिष्कृत वाणिज्यिक पोत के विस्तृत श्रेणी का निर्माण करती है जिसमें छोटे बन्दरगाह क्राफ्ट से लेकर तेज और शक्तिशाली निगरानी पोतों का निर्माण शामिल है । यह विश्व के कुछ शिपयार्डो में से है जिनका अपना अभियांत्रिकी एवं इंजन निर्माण प्रभाग है । अपने १०० वर्षो के अनुभव के ठोस आधार पर बढ़ते हुए जीआरएसई ने आत्म विश्वास के साथ आगे नए स्वर्ण युग की चुनौतियों को स्वीकार किया है ।

    अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.grse.nic.in क्लिक करें ।

पेज अपडेट दिनांक २२/०५/२०१७

समवाय कार्मिक

  • माझगाव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड,
    डॉकयार्ड रोड, माझगांव,
    मुंबई - ४०० ०१०, भारत
  • दूरभाष सं. :
    बोर्ड: २३७६ २०००, २३७६ ३०००,
    2376 4000

अन्य लिंक

आगंतुकों काउंटर
Copyright © एमडीएल. सर्वाधिकार सुरक्षित. Crafted & Cared by Web Design, SEO, Digital Marketing Company in Pune, India - IKF